Kadar Shayari (मेरे प्यार की कदर नहीं शायरी) love, pyar, apno, rishto 2022

कदर शायरी

Kadar Shayari – इस पोस्ट में बेहतरीन शायरी, स्टेटस, कोट्स और आदि लिखे गए हैं। कृपया उन्हें पढ़ें।

जब कोई व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति को प्यार, सम्मान, आतिथ्य, या सेवा दिखाता है तो उसे कदर करना कहा जाता है। यदि आप उसकी कदर करते हैं तो कोई आपकी कदर करेगा। लेन-देन इस दुनिया की जीवनदायिनी है। जो आप किसी को देंगे वो आपको वापस कर दिया जाएगा। जब कोई किसी दूसरे व्यक्ति को कदर नही करता है, तो उसे केवल दुःख होता है।

इस दुनिया में एक मां का अपने बच्चे के लिए प्यार निस्वार्थ होता है। क्योंकि एक माँ का अपने बच्चे के लिए प्यार उसके देखने से पहले ही शुरू हो जाता है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि बच्चा कौन है। इसमें हजारों खामियां हो सकती हैं, लेकिन मां की ममता कभी कम नहीं होती। नतीजतन, यह कहना सही होगा कि एक मां अपने बेटे को सबसे ज्यादा महत्व देती है।

Kadar Shayari (कद्र पर शायरी)

गरीब हो या अमीर सबकी कदर करते है,
इंसानियत को हम अपनी नजर में रखते है.

कैसे भूल जाऊँ मैं उसको,
जो चाहता है इस कदर
हथेली की मेहंदी में लिखा है
उसने मेरा नाम छिपाकर.

इस कदर उसका चेहरा बस गया है मेरी आँखों में
कि अब हर सूरत में बस वो हीं नजर आता है.

कैसे भूल जाऊँ मैं उसको,
जो चाहता है इस कदर
हथेली की मेहंदी में लिखा है
उसने मेरा नाम छिपाकर.

जो अपनी परिश्रम से गदर करते है,
दुनिया वाले उन्हीं की कदर करते है.

कुछ इस कदर तेज हो गई है रफ्तार जिंदगी की
कि अब किसी को किसी की फ़िक्र हीं नहीं
किसी को किसी की कदर हीं नहीं.

मिलती हैं नजरें तुझसे तो इस कदर खो जाते हैं,
जैसे बच्चे भरे बाज़ार में खो जाते हैं।

ना कर झूठी तारीफ़ अपने शहर की इस क़दर
के मैं भी गाँव छोड़ आऊँ और भटकूँ दर बदर

मुझे तुमसे मोहब्बत इस कदर हो गई
मैं तेरा हो गया, तू मेरी हो गई.

इश्क़ में किसी की याद इस कदर ना सतायें,
आशिक बेइंतहा प्यार करके बर्बाद हो जायें.

परख से परे है
शख्सियत मेरी,
मैं उन्हीं के लिए हूँ,
जो समझे कदर मेरी।

माना तेरी नजरों में मेरे प्यार की कदर कुछ भी नही,
तेरे खातिर मैंने हुश्न की मलिका को पलट कर देखा नही.

जिस दिन मेरे मौत आएगी,
उस दिन तुझे ज़रूर
मेरी कदर समझ आएगी।

किसी के यादों में अपनी रातों को इस कदर बर्बाद मत कर,
अगर कोई प्यार ना करे तो तू किसी और को प्यार कर

जो इंसान वक़्त की कदर नहीं करता,
वक़्त उसकी कदर नहीं करता।

pyar ki kadar shayari (सच्चे प्यार की कदर शायरी)

अगर आप चाहते है कि आप के बच्चे कदर करे,
तो अपने बच्चों के जीवन में संस्कार को भरे.

लोग हमारी कदर तब नही करते
जब हम अकेले हो,
तब करते है जब वो अकेले हो।

कदर करो उनकी जो तुम्हे दिल से चाहते है,
वरना चेहरे पे तो हर कोई मरता है।

मेरी कदर तुझे उस दिन
नजर आएगी जिस दिन तू
मुझे अपने से दूर पाएगी।

प्यार उसी से करो जो,
प्यार की कदर जानता हो,
उससे नही जो हर किसी से,
दिल लगाना जानता हो।

कहा से होगी कदर हमारी,
इतनी आसानी से जो मिले है।

Kadar Shayari in Hindi

अगर आप चाहते है कि आप के बच्चे कदर करे,

तो अपने बच्चों के जीवन में संस्कार को भरे.

जो अपनी परिश्रम से गदर करते है,

दुनिया वाले उन्हीं की कदर करते है.

ना कर झूठी तारीफ़ अपने शहर की इस क़दर

के मैं भी गाँव छोड़ आऊँ और भटकूँ दर बदर

गरीब हो या अमीर सबकी कदर करते है,

इंसानियत को हम अपनी नजर में रखते है.

Kadar Status in Hindi

जो मुफ्त में मिलता है,

उसकी कदर कौन करता है.

इश्क़ में किसी की याद इस कदर ना सतायें,

आशिक बेइंतहा प्यार करके बर्बाद हो जायें.

जिसे कदर होती है वो छोड़ कर जाते नही,

छोड़ कर जाने वाले कभी लौट कर आते नही.

Kadar Quotes in Hindi

जो अपने माँ-बाप की कदर करते है,

दुनिया उनकी कदर करती है.

वक़्त निकल जाने के बाद कदर की जाए,

तो वो कदर नही अफ़सोस कहलाता है.

जो इंसान विनम्र होता है वो सबकी कदर करता है,

और जो अहंकार से भरा हुआ होता है वो ना तो किसी की कदर करता है और ना कोई उसकी कदर करता है.

Apno Ki Kadar Shayari

अपनो से रिश्ता कभी नही तोड़ना चाहिए,

पर कदर ना हो तो निभाना भी नही चाहिए.

जिस घर में माँ की कदर नही होती,

उस घर में कभी बरकत नही होती.

Kadar Karo Shayari

जिसकी कदर करो वो वक़्त नही देता,

जिसको वक़्त दो वो कदर नही करता.

कदर करो उसकी जो तुम्हे दिल से चाहता है,

हसीन चेहरे पर तो हर जवाँ दिल फ़िदा होता है.

Love Kadar Shayari

ना तोड़ो रिश्तें थोड़ा सबर करो,

हर प्यार भरे रिश्तें की कदर करो.

उतर जाते है कुछ लोग दिल में इस कदर,

जिन्हें दिल से निकालों तो जान निकल जाती है.

तोड़ेंगे गुरूर इश्क का और इस कदर सुधर जायेंगे,

खड़ी रहेगी मोहब्बत और हम सामने से गुजर जायेंगे.

रिश्तों की कदर पैसों की तरह करनी चाहिए,

क्योंकि दोनों को कमाना कठिन और गवाना आसन है.

rishto ki kadar (रिश्तों की कदर शायरी)

पहले मेहमान घर आते थे तो कदर होती थी,
अब मेहमान घर आते है तो गदर होती है.

ना तोड़ो रिश्तें थोड़ा सबर करो,
हर प्यार भरे रिश्तें की कदर करो.

वो मेरी नहीं थी इस बात की
मुझको खबर तक ना थी,
मैं पूरा उसका था इस बात की
उसको कदर तक ना थी।

अगर मेरे जज्बातों की
तुझे कोई कदर नहीं,
तो तेरे भी हालातों की
मुझे कोई फिकर नहीं।

फ़िक्र वो किया करते है,
जो हकीकत में कदर किया करते है।

वक्त बीत जाने के बाद,
कदर की जाए,
तो वो कदर नहीं
अफ़सोस कहलाता है।

pyar ki kadar nahi shayari (मेरे प्यार की कदर नहीं शायरी)

कदर वही करता है
जिसको जरुरत होती है,
बिना जरुरत के तो
कोई याद भी नही करता।

जो मुफ्त में मिलता है,
उसकी कदर कौन करता है.

चाँद की क़दर भी
पत्थर जितनी हो जाएगी
बस तू हासिल करके देख ले।

कदर होती उन्हे तो लौट आते,
मुझे यू तन्हा छोड़ कर ना जाते।

उसे इतना वक़्त दे दिया
की वो हमारे वक़्त की
कदर करना ही भूल गया।

टूटा हु इस कदर
अब कुछ भी न हो रहा असर,
तुझे कुछ भी न हैं खबर
तेरे लिए हम हैं एक हमसफ़र।

हमें उम्मीद है कि आपको ये कदर Kadar Shayari हिंदी में पसंद आयी होगी । अगर आपको यह पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ शेयर करना न भूलें।

यदि आपके कोई प्रश्न या सुझाव हैं, तो कृपया हमें एक comment छोड़ कर बताएं।

Shankar Kushwaha

Website: http://okeyhindi.xyz

Hi Friends, I am blogger and content writer. I like to write content by creating a blog. I will be happy that we will get the same information from our blog. Website - http://okeyhindi.xyz | Email - OkeyHind@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *